Dil Ki Baatein

Dil Ki Baatein, Dil ki Baatein Dil Hi Jaane,  Dil Ki Baatein In Hindi, Shayari Dil Ki Baatein, Dil Ki Baatein In Hindi, Dil Ki Baatein Shayari, Shayari Dil Ki Baatein In Hindi, दिल की बाते शायरी, दिल की बाते, Dil Ki Baatein FB, Dil Ki Baatein Facebook, Dil Ki Baatein Facebook Shayari, Facebook Dil Ki Baatein, Shayari

Dil Ki Baatein

Dil Ki Baatein

तेरी यादों ने मुझे क्या खूब मशरूफ किया है ऐ सनम..
खुद से मुलाकात के लिए भी वक़्त मुकर्रर करना पड़ता है


Dil Ki Baatein

Hum Ne Liya Sirf Hothon Se Jo Naam Tumhara,
Dil Hothon Se Ulajh Pada Ki Yeh Sirf Mera Hai

 Dil Ki Baatein In Hindi

Dil Ki Baatein In Hindi

ऊपर वाले ने कितने लोगो की तक़दीर सवारी है ….
काश वो एक बार मुझे भी कह दे के आज तेरी बारी है

दिल मे खुशी हो तो.. छलक जाती हैं..!
मुस्कुराहटें.. वजह की मोहताज नही होती
Dil ki Baatein Dil Hi Jaane

Dil ki Baatein Dil Hi Jaane

खुद को यूँ खोकर जिन्दगी को मायूस न कर,
मंजिलें चारो तरफ हैं रास्तों की तलाश कर

इन्हीं जर्रों से कल होंगे नए कुछ कारवां पैदा,
जो जर्रे आज उड़ते हैं गुबार-ए-कारवां होकर
Dil Ki Baatein Facebook

Dil Ki Baatein Facebook

Tujhe Yaad Kar Liya Aayat Ki Tarah,
Ab Tera Zikr Hoga Ibadat Ki Tarah!


चलो आज ये दुनिया बांट लेते हैं;
तुम मेरे और बाकी सब तुम्हारा
Dil Ki Baatein FB

Dil Ki Baatein FB

कुछ रिश्ते इस जहाँ में खास होते हैं;
हवा के रूख से जिनके एहसास होते हैं;
यह दिल की कशिश नहीं तो और क्या है;
दूर रहकर भी वो दिल के कितने पास होते हैं

Rehte Ho Aaj Bhi Sanson Mein Tum,
Yaadon Mein Tum Kitabon Mein Tum,
Jab Bhi Kalam Uthata Hun Likhne Ke Liye,
Ban Kar Ghazal Aa Jate Ho Lafzon Mein Tum

Dil Ki Baatein Shayari

Dil Ki Baatein Shayari

तुम जियो हज़ारों साल दिल से बस अब यही दुआ निकले
दूर हो जाऊ उस वक़्त से पहले, जब जिस्म से रूह निकले


तुम दूर हो या पास फर्क किसे पड़ता है,
तू जँहा भी रहे तेरा दिल तो यँही रहता है

Shayari Dil Ki Baatein In Hindi

Shayari Dil Ki Baatein In Hindi

ACCHA SOCHIYE AUR ACCHA BOLIYE KYUN KE BADGUMANI
AUR BAD JABAANI DO AISE AEYEB HAI JO INSAAN KE
HAR KAMAAL KO JAWAL MAIN BADAL SAKTA HAI


अच्छा सोचिए और अच्छा बोलिए क्यूँ के बदगुमानी और बद जबानी
दो ऐसे एयेब है जो इंसान के हर कमाल को जवाल में बदल सकते है

WO BAHCPAN KI NEEND TO AB KHUWAAB HO GAYI
KIYA UMAR THI KE RAAT HUWI AUR SO GAYE
वो बचपन की नींद तो अब खुवाब हो गई
किया उमर थी रात हुई और सो गए


HAR KAMIYAAB SHAKS KE PASS EK TAKLEEF WO KAHANI HOTI HAI
AUR HAR TAKLEEF WO KAHANI KA ANJAAM KAMIYABI HOTA HAI
ISLIYE TAKLEEF KO BARDAASTH KARNE KI AADAT DALO
AUR KAMIYABI KE LIYE TAIYAAR HO JAO

Shayari Dil Ki Baatein

Shayari Dil Ki Baatein

हर कमियाबी शख्स के पास एक तकलीफ कहानी वो होती है
और हर तकलीफ वो कहानी का अंजाम कमियाबी होता है
इस लिए तकलीफ को बरदास्त करने की आदत डालो
और कमियाबी के लिए तैयार हो जाओ

US NE AANCHAL SE NIKALI MERI GUMSHUDA KITAAB
AUR CHUPKE SE MOHABBAT KA SAFA MOD DIYA
HUMEIN MALOOM THA ANJAAM MOHABBAT KA
HUM NE AAKHIRI HURF SE PAHLE HI KALAM TOD DIYA

उसने आँचल से निकाली मेरी गुमशुदा किताब
और चुपके से मोहब्बत का सफा मोड़ दिया
हमें मालूम था अंजाम मोहब्बत का फ़राज़
हमने आखिरी हर्फ़ से पहले ही कलम तोड़ दिया