Happy Thursday

Happy Thursday, Thursday Morning Wishes, Thursday Quotes, Happy Thursday Quotes, Thursday Status, Thursday Shayari,Thursday SMS, Thursday Wishes, Shayari

WAQT K EK TAMACHE KI DER HAI SAHEB
MERI FAQEERI BHI KIYA TERI BAADSAHI BHI KIYA
वक़्त के एक तमाचे की देर है साहेब
मेरी फकीरी भी किया किया तेरी बादशाही भी किया

Happy Thursday

Happy Thursday

Happy Thursday

AAURAT KE BAARE MEIN MASHOOR HAI
AAURAT KOI RAAZ NAHI RAKH SAKTI
LEKIN HAKIKAT YE HAI AGAR AAURAT KO RAAZ RAKHNA NA AATA
TO KOI MARD SAR UTHA KAR NA JI SAKTA


औरत के बारे में मशहूर है की औरत राज नहीं रख सकती
लेकिन हकीकत ये है अगर औरत को राज रखना न आता
तो कोई मर्द सर उठा कर न जी सकता

UMAR BHAR GALIB YAHI BHOOL KARTA RAHA
KI DHOOL CHEHRE PE THI AUR MEIN AAYINA SAAF KARTA RAHA
उम्र भर ग़ालिब यही भूल करता रहा
की धुल चेहरे पे थी और में आईना साफ़ करता रहा

Happy Thursday Quotes

Happy Thursday Quotes

NA VAASTA KISI SHAYAR SE NA SHAYARI SE THE AANSHNA
TERI YAAD NE TERE DARD NE MUJHE SHAYAR
ना वास्ता था किसी शयेर से ना शायरी से थे आशना
तेरी याद ने तेरे दर्द ने मुझे शायर कहेना सिखा दिया

ZINDAGI GUJARNE KE DO HI TARIKE HAI
JO HU RAHA HAI USE HONE DO
YA PHIR BARDAASTH KARTE RAHO
YA PHIR JIMME DAARI UTHAO USE BADALNE KI


ज़िन्दगी गुजरने के दो ही तरीके है
जो हो रहा है उसे होने दो
या फिर बर्दास्त करते रहो
या फिर जिम्मे दारी उठाओ उसे बदलने की
Thursday Morning Wishes

Thursday Morning Wishes

BAHETAR INSAAN APNE AMAL SE PAHECHANA JATA HAI
WARNA ACCHI BAATIEN TO DIWAAR PE BHI LIKHI HOTI HAI
बेहतर इंसान अपने अमल से पहेचाना जाता है
वरना अच्छी बातें तो दीवारों पे भी लिख होती है


MUFLEES KE BADAN KO BHI HAI CHADAR KI ZARURAT
AB KHUL KAR MAZARON PE YE AILAAN KIYA JAYE GA
मुफलीस के बदन को भी है चादर की ज़रूरत
अब खुल कर मजारों पे ये ऐलान किया जाये ग


ZINDAGI TAB BEHTAR HOTI HAI JAB AAP KUSH HOTE HAI
LEKIN ZINDAGI TAB BEHTAREEN HOTI HAI
JAB AAP KIWAJHA SE KOI DUSRA KUSH HOTA HAI
ज़िन्दगी तब बेहतर होती है जब आप जुश होते है
लेकिन ज़िन्दगी तब बेहतरीन होती है
जब आप की वजह से कोई दूसरा खुश होता है
Thursday Wishes

Thursday Wishes

ALAG THA TERA ANDAAZ SAB SE ALAG THA TERA MIZAAZ BHI
TO GALIB NA THA FAKAT TO SAB PE GALIB HAI AAJ BHI
अलग था तेरा अंदाज़ सब से अलग था तेरा मिजाज़ भी
तो ग़ालिब था फकत तो सब पे ग़ालिब है आज भी


KAQIKAT MEIN DARD WO HAI JO DUSRO KE DARD DEKH KAR MILE
WARNA APNA DARD TO JAANWAR KO BHI MAHSOOS HOTA HAI
हकीकत में दर्द वो है जो दूसरों के दर्द देख कर मिले
वरना अपना दर्द तो जानवर को भी महेसूस होता है