Happy Tuesday : Tuesday Morning Wishes

शायरी पसन्द आये तो एक शेयर जरूर करे

ZINDAGI MEIN DO LOGO SE DOOR RHENA
EK MASRUF AUR DUSRA MAGRUR
KYUN KE MASRUF APNI MARZI SE BAAT KARTE HAI
AUR MAGRUR APNE MATLAB KE LIYE YAAD KARTE HAI

Happy Tuesday

Happy Tuesday

Happy Tuesday

ज़िन्दगी में दो लोगो से डोर रहेना
एक मसरूफ और दूसरा मगरूर
क्यू के मसरूफ अपनी मर्ज़ी से बात करते है
और मगरूर अपने मतलब के लिए याद करते हैं

LOG KEHTE HAI KIRDAAR PE BAAT AAJAYE TO SAFAI DENA ZARURI HU JATA HAI
MEIN KHETA HUN KIRDAAR PE BAAT AAJAYE TO BAAT HI KHATAM HO JATI HAI
लोग कहते है किरदार पे बात आजाये तो सफाई देना ज़रूरी हु जाता है
में कहता हूँ किरदार पे बात आजाये तो बात ही ख़तम हो जाती है

BAAZ AAUKAAT KHAMOSHI ITKHTIYAAR MAHI MAJBOORI HOTI HAI
KYUN KE INSAAN JHUT BOLNA NAHI CHAHTA AUR SACH BOL NAHI SAKTA
बाज़ औकात ख़ामोशी इख्तियार नहीं मजबूरी होती है
इंसान झूट बोलना नहीं चाहता और सच बोल नहीं सकता

Tuesday Quotes

Tuesday Quotes

JO TUMHARI QADAR NAHI KARTA TUM USKI AUR BHI ZAYDA QADAR KRO
KYUN KE ZINDAGI K KISI BHI MOD PAR USSE TUMHARI QADAR KA EHSAAS ZAROOR HOGA
जो तुम्हारी क़दर नहीं करता तुम उसकी उअर भी जायदा क़दर करो
क्यू के ज़िन्दगी के किसी भी मोड़ पर उससे तुम्हारी क़दर का एहसास ज़रूर होगा

Tuesday Morning Wishes

ZINDAGI KABHI KABHI AYSI THUKAR MAARTI HAI KE
INSAAN SEEDHA SAJDE MEIN JA GIRTA HAI
ज़िन्दगी कभी कभी ऐसी ठुकर मरती है के
इंसान सीधा सजदे में जा गिरता है

Tuesday Status

Tuesday Status

JAB KOI AAP SE KAHE K ISE AAP MEIN EK KHUBI NAJAR AATAI AATI HAI
TO ISE GALE LAGA LE
KYUN KE NADAAN LOGO KO PIYAAR AUR TAWAJJA KI ZARURAT HOTI HAI
जब कोई आप दे कहे के इसे आप में एक खूबी नजर आती है
तो इसे गले लगा ले
क्यू के नादान लोगो को प्यार और तवाज्जा की ज़रूरत होती है

Happy Tuesday Quotes

HAMESHA SACH BOLO TAA KE TUMEIN
KASAM KHANE KI ZARURAT NA PADE
हमेशा सच बोलो ताके तुम्हें
कसम खाने की ज़रूरत ना पड़े
ये कहेना बड़े कमाल की बात है
कि मुझ में कोई कमाल की बात नहीं है

Tuesday Wishes

Tuesday Wishes

YE KAHENA BADE KAMAAL KI BAAT HAI KI
MUJH MEIN KOI KAMAAL KI BAAT NAHI HAI
MAHI TUM SE KOI SIKAYAT NUS ITNI SI ILTEZA HAI
JO HAAL KAR GAYE HO KABHI DEHKNE MAT AANA

Tuesday Shayari

नहीं तुम से कोई सिकायत बस इतनी सी इल्तेज़ा है
जो हाल कर गए हो कभी देखने मत आना

MAT PUCH SANAM HUM SE PIYAAR KI KIS RAH SE GUJRE
YE DEKH KE TUJH PAR KOI ILZAAM NA LAGA PAYA
मत पूछ सनम हम से प्यार में किस रह से गुजरे
ये देख के तुझ पर कोई इलज़ाम भी न लगा पाया

Also Read : Romantic Shayari


शायरी पसन्द आये तो एक शेयर जरूर करे