Mothers Day Shayari

Mothers Day Shayari, Mothers Day Shayari In Hindi, Shayari On Mothers Day, maa shayari, Mother Shayari , Maa Shayari in Hindi, Maa Baap Shayari, Mother Day Shayari in Hindi, Shayari on Mothers Love, Mother Shayari in Hindi, Shayari for Mom And Dad in Hindi, Best Shayari On Mother Day in Hindi, Maa ki Shayari, Maa Baap Shayari in Hindi, Shayari

Mothers Day Shayari

Mothers Day Shayari

हजारो फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए,
हजारों दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए
हजारों बून्द चाहिए समुद्र बनाने के लिए,
पर “माँ “अकेली ही काफी है,
बच्चो की जिन्दगी को स्वर्ग बनाने के लिए

Mothers Day Shayari

PHOOL ME JIS TARHA KHUSHBOO ACHI LGTI HAIN
MUJHKO US TARHA MERI MAA ACHCHI LGTI HAIN
ALLAH SLAMAT OR KHUSH RAKHE MERI MAA KO,
SARI DUAON ME MUJHE YE DUA ACHCHI LGTI HAI

हमारे कुछ गुनाहों की सज़ा भी साथ चलती है
हम अब तन्हा नहीं चलते दवा भी साथ चलती है
अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा
मैं जब घर से निकलता हूँ दुआ भी साथ चलती है
Maa Baap Shayari in Hindi

Maa Baap Shayari in Hindi

DAASTAN MERE LAAD PYAAR KI
BAS AIK HASTI K GIRD GHOOMTI HAI
PYAAR JANNAT SE IS LIYE HAI MUJHE
YE MERI MAA K KADAM CHOOMTI HAI

माँ ना होती तो वफ़ा कौन करेगा,
ममता का हक़ भी कौन अदा करेगा,
रब हर एक माँ को सलामत रखना,
वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा

ये जो सख्त रस्तो पे भी आसान सफ़र लगता हे
ये मुझ को माँ की दुआओ का असर लगता हे
एक मुद्दत हुई मेरी मां नही सोई तबिश …
मेने एक बार कहा था के मुझे डर लगता हे

Maa ki Shayari

Maa ki Shayari

माँ से रिश्ता कुछ ऐसा बनाया
जिसको निगाहों में बिठाया जाए
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा की
वो अगर उदास हो तो हमसे भी मुस्कुराया न जाये

जिँदगी‬ की पहली ‪TEACHER‬ ‎माँ‬,
जिँदगी की पहली ‪FRIEND‬ माँ,
‪JINDAGI‬ भी माँ ‎क्योँकि‬,
‎ZINDAGI‬ देने वाली भी माँ

बच्चों को खिलाकर जब सुलादेती है माँ,
तब जाकर थोडा सा सुकोन पाती है माँ,
प्यार कहते हैं किसे ? और ममता क्या चीज़ है ?,
कोई उन बच्चों से पूछे जिनकी गुज़र जाती है माँ,
Mothers Day Shayari In Hindi

Mothers Day Shayari In Hindi

चाहे हम खुशियों में माँ को भूल जाएँ , जब मुसीबत सर पर आती है तो याद आती है माँ.

MAA KE BINA ZINDGI VIRAN HOTI HAIN,
TANHA SAFAR ME HR RAH SUNSAAN HOTI HAIN,
ZINDAGI ME MAA KA HONA ZARORI HAIN,
MAA KI DUAON SE HI HAR MUSHKIL AASAAN HOTI H

कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती,
सब कुछ मिल जाता है लेकिन “माँ” नहीं मिलती…
माँ-बाप ऐसे होते हैं दोस्तों जो ज़िन्दगी में फिर नहीं मिलते,
खुश रखा करो उनको फिर देखो जन्नत कहाँ नहीं मिलती