Shayari Ki Duniya

Shayari Ki Duniya, Shayari Ki Duniya In Hindi, shayari ka khazana, Shayari Hi shayari,  शायरी की दुनिया, शायरी का खज़ाना, शायरी ही शायरी, Shayari Ki Duniya FB, Shayari Ki Duniya Facebook, Shayari Ki Duniya Hindi, Shayari Ki Duniya In Hindi, New Shayari Ki Duniya, Top Shayari Ki Duniya, Latest Shayari Ki Duniya, Shayari

Shayari Ki Duniya

Shayari Ki Duniya


उनकी तस्वीर को सिने से लगा लेते हैं,
इस तरह जुदाई का गम मिटा देते हैं,
किसी तरह कभी उनका जिक्र हो जाये तो,
भींगी पलकों को हम झुका लेते हैं


ढलती शाम का खुला एहसास है,
मेरे दिल में तेरी जगह कुछ खास है,
तू नहीं है यहाँ मालूम है मुझे पर,
दिल ये कहता है तू यहीं मेरे पास है

Shayari Ki Duniya


आज किसी की दुआ की कमी है,
तभी तो हमारी आँखों में नमी है,
कोई तो है जो भूल गया हमें,
पर हमारे दिल में उसकी जगह वही है


मोहब्बत कि ज़ंज़ीर से डर लगता हे,
कुछ अपनी तफलीक से डर लगता हे,
जो मुझे तुजसे जुदा करते हे,
हाथ कि वो लकीरो से डर लगता हे।


आखों से उनकी तस्वीर हटती ही नहीं,
दिल से उनकी यादें मिटती भी नहीं,
भूलाए तो भूलाए भी कैसे उन्हें,
उनके बिना धडकने चलती भी तो नहीं

साथ ना रहने से रिश्ते टूटा नहीं करते,
वक़्त की धुंध से लम्हे टूटा नहीं करते,
लोग कहते हैं कि मेरा सपना टूट गया,
टूटी नींद है.. सपने टूटा नहीं करते


मेरा दिल जलाने वाले, मेरा दिल जला के रोए,
मुझे आजमाने वाले, मुझे आजमा के रोए,
मेरे सामने से गुजरे, मेरा हाल भी ना पूछा,
मैं यकीं करूं तो कैसे, के वो दूर जा के रोए

Shayari ka khazana

Shayari ka khazana


हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें,
कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,
पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये

नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,
अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,
कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,
गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते


तुम हक़ीकत नहीं हो हसरत हो,
जो मिले ख़्वाब में वही दौलत हो,
किस लिए देखती हो आईना,
तुम तो खुदा से भी ज्यादा खूबसूरत हो

Shayari Hi shayari

Shayari Hi shayari


खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो,
दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,
देर हो गयी याद करने में जरूर,
लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो

तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,
तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी,
क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,
जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी


हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना,
हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,
पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना


पलकों को जब-जब आपने झुकाया है,
बस एक ही ख्याल दिल में आया है,
कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है,
तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है

इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है,
क्या बताये ये राज़ कैसा है,
कौन कहता है कि आप चाँद जैसे हो,
सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है